नोट के मुड़ते ही टुकड़े होने से महिला मजदूर सदमें में आ गई. विटा की स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के मैनेजर ने कहा कि बढ़ती गर्मी और केमिकल रिएक्शन के चलते यह होना संभव है. फिर भी जांच के लिए ये नोट रिजर्व बैंक के पास भेजे गए हैं. इन नोटों की अब जांच की जाएगी. इस घटना से दिहाड़ी मजदूरी का काम करने वाली इस महिला को सदमा पहुंचा है. बैंक नोट बदलकर नहीं दे रहा है. यह उसकी जमा पुंजी थी जो की उसने संभालकर रखी थी. अब उन्हें आरबीआई से क्या जवाब आता है उसका इंतजार है.